गर्मी में प्रभु का धन्यवाद!!

Image
गर्मी में प्रभु का धन्यवाद!!    हम लोग न शिकायत बहुत करते हैं। कभी अपनो से तो कभी अपने आप से और जब कभी कुछ नहीं सूझता तो भगवान से ही शिकायत कर लेते हैं क्योंकि यहां तसल्ली मिलती है कि कोई सुने या न सुने लेकिन मेरा भगवान तो जरूर सुनेगा। अब इसे हम शिकायत समझे या फिर अपनी इच्छाएं ये तो भगवान ही जाने हम तो बस भगवान के तथास्तु की इच्छा रखते हैं लेकिन अपनी इच्छाओं के साथ आगे बढ़ते बढ़ते उस ईश्वर का धन्यवाद देना भी भूल जाते हैं जिसने हमेशा सहारा दिया है।       वैसे तो ईश्वर के आगे हम सभी नमन करते हैं लेकिन कभी कभी उसकी कृपा देर से समझ आती है। अभी पिछले शनिवार की ही बात है जब मुझे भी इस बात का अनुभव हुआ कि चाहे जो भी दिया है जितना भी दिया है उसके लिए ईश्वर का धन्यवाद है।    पिछले हफ्ते ही ऋषिकेश जाना हुआ लेकिन बिना अपनी गाड़ी के। काफी समय गुजर गया है किसी भी पब्लिक ट्रांसपोर्ट की सेवाएं लेते हुए । कहीं भी जाना हो चाहे पास का सफर हो या दूर का अब अधिकतर अपना वहां ही प्रयोग होता है। भीड़भाड़ वाली जगह हो तो दुपहिया नहीं तो अपनी गाड़ी से ही चल पड़ते हैं। और जब न अपनी दुपहिया हो और न ही

Hotel & Hospitality: एक विशाल परिवार!!

Hotel & Hospitality: एक विशाल परिवार!!

   मेरे फोन में केवल 30% नंबर ही मेरे अपने घर परिवार और दोस्त के हैं। बाकी बचे लगभग 70% नंबर तो होटल और हॉस्पिटैलिटी से जुड़े लोगों के है। इसे देखकर लगता है कि अपने परिवार से बड़ा तो ये होटल और हॉस्पिटैलिटी का परिवार है जहां नित नए लोग मुझसे जुड़ते चले जा रहे हैं और ऐसा ही हाल उन सभी लोगों का भी है जो इस क्षेत्र से जुड़े हुए हैं।

   सच कहती हूं 11 साल पहले जो होटल और हॉस्पिटैलिटी क्षेत्र से क्या जुड़ी, मुझे लग रहा है कि आज तक नए लोगों से जुड़ रही हूं। सीमित परिवार के साथ सीमित मोबाइल नो. लेकिन इस विशाल क्षेत्र से जुड़ने का मतलब मेरे व्यवसायिक परिवार का अपने आप विशाल हो जाना है। 
   होटल और रेस्टोरेंट उद्योग अपने आप में इतना विशाल है कि रोज कितने ही नए लोग इससे जुड़ते चले जा रहे हैं और एक परिवार की तरह आपस में बंधे जाते हैं क्योंकि जैसे हमारी दुनियां गोल है वैसे ही होटल और रेस्टोरेंट की दुनिया भी गोल है जहां सभी लोग अपना अपना काम करते हुए आपस में जुड़ते चले जाते हैं और किसी न किसी छोर पर आपस में मिल भी जाते हैं। 

   भले ही पिछले दो साल होटल और हॉस्पिटैलिटी क्षेत्र के लिए मुश्किल और चुनौतियों से भरे हुए थे और इतने बड़े उद्योग से जुड़े लोगों के बीच उथल पुथल भी रही होगी लेकिन हमें ये नहीं भूलना चाहिए कि ये उन में से एक उद्योग है जो दुनिया में सबसे अधिक नौकरियों के अवसर देता है। इसीलिए तो नए साल से फिर से एक बार होटल और हॉस्पिटैलिटी ने अपनी रफ्तार पकड़नी शुरू कर दी है और इसके साथ ही इस क्षेत्र से जुड़े अपने परिवार वालों के लिए ढेरों विकल्प भी दे दिए हैं। 

  हाई सेफ्टी स्टैंडर्ड, एक्सीलेंस सर्विस बेस्ट रेट के साथ, रिकवरी स्ट्रेटजी, तकनीकी, डिजिटलाइजेशन और पिछले अनुभव से अब इस उद्योग में एक बार फिर से डायनेमिक उछाल आ रहा है। तभी तो आज किसी भी जॉब साइट पर चले जाएं आतिथ्य (हॉस्पिटैलिटी) क्षेत्र की ढेरों नौकरियां देश के कोने कोने में उपलब्ध है।

 (एक रिसर्च के अनुसार: JLL के होटल मोमेंटम इंडिया (HMI) Q4, 2021 के अनुसार, इंडियन हॉस्पिटैलिटी में वर्ष 2021 की चौथी तिमाही में राजस्व प्रति उपलब्ध कक्ष Revenue Per Available Room (RevPAR) में सालाना 100.3% की वृद्धि देखी गई। Q4 (अक्टूबर-दिसंबर) का तिमाही RevPAR। 41.9% पर था। 2021 की अंतिम तिमाही (Q4 2021) में भी पिछले वर्ष की समान अवधि की तुलना में अंतर्राष्ट्रीय आगमन में उल्लेखनीय वृद्धि देखी गई।)

    हॉस्पिटैलिटी का ये परिवार विश्व स्तर पर सबसे बड़े नियोक्ताओं (largest employers) में से एक है जो अपनी जिम्मेदारियों को अच्छे से जानता है और अपना परिवार चलाने के लिए अब एक बार फिर से पूरे जोर शोर से काम कर रहा है और नौकरियों के बहुत से विकल्प अब नौजवानों के लिए दे रहा है। यकीन मानिए देश विदेश में रोज हजारों नौकरियां उन ही नौजवानों के लिए आ रही हैं जो होटल और हॉस्पिटैलिटी परिवार का हिस्सा बनना चाह रहे हैं।

  इस बड़े और विशाल होटल और हॉस्पिटैलिटी परिवार में उन सभी का स्वागत है जो अपने लिए एक प्रोफेशनल करियर चाहते हैं, जो अपने काम के प्रति जुनूनी हैं, जो घूमना चाहते हैं, जो लग्जरी और ग्लैमर की ओर आकर्षित होते हैं, जो देश विदेश की यात्राओं में जाना चाहते हैं, जिन्हें नौकरियों के ढेरों विकल्प की खोज रहती है, जो नए नए लोगों से मिलना चाहते हैं उनसे जुड़ना चाहते हैं, जिन्हें अपना करियर उबाऊ नहीं अपितु रचनात्मक चाहिए और उन्हें भी जो एक उद्यमी होने का सपना देखते हो। 

इस विशाल परिवार से जुड़िए एक प्रोफेशनल कोर्स के साथ जो आपको जोड़े दुनिया के हर कोने से।




   Only 30% of the numbers in my phone belong to my own family and well-wishers. About 70% of the remaining numbers are from people associated with hotels and hospitality. Seeing this, it seems that the hotel industry is bigger than my family. Yes, this is a family of hotels and hospitality where new people are joining me every day and the same would be happen with the people who belongs to this industry.
   To tell the truth, when I connected with this sector 12 years ago, but still, I feel that I recently join it because I meet new people every day and till date, I am connecting with many people. I got to know that Limited number with limited families but connecting with this vast area means connecting with unlimited people.

  The hotel and restaurant industry itself is so vast that every day so many new people are joining it and are bound together like a family because like our world is round, the world of hotels and restaurants is also round where all People go on connecting with each other while doing their own work and get mixed together at one end or the other.
  Even though the last two years were difficult and full of challenges for the hotel and hospitality sector and there must have been turmoil among the people associated with such a huge industry, but we must not forget that it is one of the industries which is the largest in the world. Gives more job opportunities. That is why this year once again the hotel and hospitality has started gaining momentum and has also given many options for their families associated with this area.
  With High Safety Standards, Excellence Service Best Rate, Recovery Strategy, Technology, Digitalization, and Past Experience, the industry is once again witnessing a dynamic boom. That's why today go to any job site, many jobs in the hospitality sector are in every corner of the country.
(According to a research: JLL's Hotel Momentum India (HMI) Q4, 2021 As per JLL's Hotel Momentum India (HMI) Q4, 2021, Indian Hospitality witnessed a 100.3% year-on-year growth in Revenue Per Available Room (RevPAR) in the fourth quarter of the year 2021. Q4 The quarterly RevPAR (October-December) stood at 41.9%. The last quarter of 2021 (Q4 2021) also saw a significant increase in international arrivals as compared to the same period last year.)
    Family of hospitality is one of the largest employers globally who know their responsibilities very well and are now working hard once again to support their family and open for freshers and experienced too. The option is now given to the youth to shape up their career in hospitality. Believe me, thousands of jobs are coming every day in the country and abroad for the youth who want to be a part of the hotel and hospitality family.
  The hotel and hospitality family welcomes all those who seek a professional career for themselves, who are passionate about their work, who love to travel, who are attracted to luxury and glamor, and who wish to travel abroad. For Those who want to go on trips, those who are in search of job options, those who want to meet new people, also for those who want a creative career, and for those who dream of being an entrepreneur too.
   Join this vast family which is one of the fastest-growing industries with a professional course that connects you from every corner of the world and become a professional player in the Hospitality sector. We welcome you.

एक -Naari

Comments

  1. As a working professional, I am relating the same... it's a big industry with many career options.

    ReplyDelete

Post a Comment

Popular posts from this blog

मेरे ब्रदर की दुल्हन (गढ़वाली विवाह के रीति रिवाज)

उत्तराखंडी अनाज.....झंगोरा (Jhangora: Indian Barnyard Millet)

स्कूल का खुलना...चैन की सांस..Reopening of Schools