देहरादून: बदलता मौसम...

Image
देहरादून: बदलता मौसम...    चलो अब तो बारिश हुई और अब जाकर कुछ ठंडक मिली है नहीं तो गर्मी से सब सूख रहे थे। वैसे गर्मियों के दिन है तो गर्मी पड़ेगी ही लेकिन इतनी गर्मी पड़ेगी इसका अंदाज़ा नहीं था। हालांकि हर वर्ष यही कहा जाता है कि पिछले वर्ष की तुलना में इस साल बहुत गर्मी है लेकिन सच में देहरादून में ऐसी गर्मी का अनुभव पहली बार ही हुआ क्योंकि भले ही देहरादून में तीन चार दिन जलनखोर गर्मी हो लेकिन उसके अगले दिन ठंडक देने बरखा रानी आ ही जाती थी। मगर जाने क्या हुआ इस बार कि बारिश को आते आते 15-20 दिन लग गए लेकिन देर से ही सही अब राहत मिली है क्योंकि बारिश के बाद गर्म मौसम यहाँ उमस नहीं अपितु ठंडा कर देता है।    यहाँ के मौसम का मिजाज ऐसा है कि बस एक बारिश की फुहार और फिर तपने वाला देहरादून ठंडक वाली दून घाटी में बदल जाता है। इसलिए कहा जाता है कि देहरादून के मौसम का कुछ पता नहीं चलता, कब पलट जाए। तभी तो कब से उम्मीद लगा के बैठे थे कि देहरादून का पारा तीन- चार दिन बढ़ते बढ़ते अब तो पलटी मार के नीचे लुढ़क ही जायेगा लेकिन इस बार हमारा ये ख्याल हवा हो गया। देहरादून जो हमेशा से अपने ख

Chef: Heart/King of the kitchen

Chef: King of the kitchen


   शेफ का मतलब कैंब्रिज डिक्शनरी में भले ही स्किल्ड और ट्रेन्ड कुक हो जो होटल या रेस्टोरेंट में काम करता है लेकिन एक आम भाषा में एक शेफ पूरी किचन का कर्ता धर्ता होता है जिसका काम केवल चूल्हे में खाना बनाना नहीं बल्कि हर एक मसाले की पहचान, जायकों की समझ, खाना पकाने की तकनीक का ज्ञान, मेनू प्लानिंग, नई नई विधियों से लेकर पारंपरिक पकवान को सर्वोत्तम बनाने तक का होता है। साथ ही होटल रेस्टोरेंट के किचन की बजट/कोस्टिंग से लेकर पूरे किचन ऑपरेशन की जिम्मेदारी भी बेहतरीन तरीके से निभाता है असल में वही शेफ है। इन्हीं सब के चलते अगर शेफ को किचन का राजा कहा जाए तो कुछ गलत नहीं है। अब अगर राजा निपुण होगा तो राज्य बढ़ेगा उसी तरह जब एक शेफ मास्टर होगा तो बिजनेस बढ़ेगा क्योंकि पूरे किचन की बागडोर मास्टर शेफ के हाथों में जो होती है।

    सफेद शेफ कोट और अप्रैन पहने जो सिर पर बड़ी सी सफेद टोपी केवल शेफ कैप नहीं उसके लिए किचन का ताज होता है। भले ही शेफ कैप हाइजीन के मानकों को पूर्ण करती हो लेकिन शेफ के लिए उसकी वर्दी और उसकी शेफ कैप उसका मान होता है जो उसको अहसास कराता है उसके हुनर का, उसके स्किल्ड होने का और अपने काम के प्रति समर्पित होने का।
    सबसे अधिक कुशल लोगों (skilled people) में शेफ की गिनती भी होती है और दुनिया में सबसे अधिक मांग (demand) वाले पेशे में से एक शेफ का पेशा (High skill profession) भी है और अपने इसी पेशे से एक शेफ अपनी मेहनत से और अपनी कुशलता से दुनिया की किसी भी मुद्रा (currency) रुपया, डॉलर, पाउंड, दिनार, येन इत्यादि में अपना मेहनताना ले सकता है। 
  एक प्रोफेशनल शेफ अपनी रचनात्मकता (creativity) से अपना महत्व बढ़ाता है, देश विदेश के भिन्न भिन्न शहरों में घूमता है, उनकी प्रोफेशनल किचन को संभालता है, अपने लजीज पकवानों का स्वाद चखाता है और अपने दम पर बिजनेस बढ़ाता है। 
   एक शेफ अपने काम के प्रति इतना जुनूनी होता है कि स्वयं तो समय का पाबंद होता है लेकिन जब अपनी किचन संभालता है तो किसी भी समय में न बंधकर बिना अपनी परवाह किए घंटों काम करता है और किसी छोटे अवसर को भी अपनी कुकिंग स्किल से एक बड़े जलसे में बदल देता है।  

  वो खाना बनाने की कला से लेकर खाद्य विज्ञान की समझ रखता है और अपने कार्य क्षेत्र में निपुण होता है। एक शेफ को भले ही आम लोग उसके कपड़ों से पहचानते हो लेकिन असल में उसके हाथों का हुनर, पाक कला की कुशलता और उसकी बुद्धि की गतिशीलता उसकी असली पहचान है और इस समझ और पहचान पाने के लिए उसने इस विशिष्ट शैली की शिक्षा (culinary art) और व्यापक रसोई प्रशिक्षण (extensive kitchen training)/ प्रोफेशनल ट्रेनिंग ली होती है और इसी के दम पर एक शेफ किचन में काम करने वाला आदमी नहीं अपितु किचन का प्रशिक्षित राजा होता है। 

   यदि आप भी शेफ बनने में रुचि रखते हैं चाहते हैं, तो आपको भी कौशल सिखने के लिए विशेष प्रशिक्षण और मार्गदर्शन की आवश्यकता होगी इसलिए इससे संबंधित जानकारी के लिए उचित संस्थान से संपर्क करें ओर बनिए 'King of the Kitchen'। 





एक -Naari
   
  
  'Chef' in Cambridge dictionary may mean a skilled and trained cook who works in a hotel or restaurant, but in a common language, a chef is the master of the entire kitchen, whose job is not only to cook food in the stove but to identify each spice, It ranges from an understanding of flavours, knowledge of cooking techniques, menu planning, Develop innovative methods to the best of traditional dishes. At the same time, chef also plays the responsibility of the kitchen eg. from budget to entire kitchen operations in the best way. Because of all this, if the chef is called the king or ruler of the kitchen, then there  would be nothing wrong. Now if the king is skilled then the kingdom will grow, in the same way if a chef is skilled, then the business will grow because the whole kitchen is in the hands of the Ruler of the kitchen, chef.

    Wearing a white chef's coat and apron and the big white cap on his head is not just a chef's cap but is the crown of the kitchen. Even though the wearing of chef cap meets the standards of hygiene, but for the chef, his uniform and his chef cap is his value which makes him feel proud and skilled.

   Chef is also counted among the most skilled people in the world and one of the most sought-after profession in the world is also the profession of a chef. A chef with his hard work and With his skill can take his remuneration in any currency of the world, Rupee, Dollar, Pound, Dinar, Yen etc.

A professional chef increases his importance with his creativity, travels to different cities of the country and abroad, manages their professional kitchen, tastes his delicious dishes and grows his business on his own. A chef is so passionate about his work that he himself is punctual, but when he takes care of his kitchen, he works for hours without any boundation of time and turns small ceremony into a grand function through their cooking skills.

Chef has an understanding of food science from the art of cooking and is proficient in his field of work. A chef may be recognized by the general public by his clothes but in reality his skill of hands, skill of cooking and dynamism of his intellect is his real identity and to gain this understanding and recognition he has taken this cooking education and extensive kitchen training. With this professional training and his exceptional skill, chef should not count as a common man of a kitchen, he should call the trained king of the kitchen.

If you are also interested in becoming a chef, then you will also need special training and guidance to learn the skill, so contact the appropriate institute and become the 'Ruler of the Kitchen'.

  
  



Comments

Post a Comment

Popular posts from this blog

मेरे ब्रदर की दुल्हन (गढ़वाली विवाह के रीति रिवाज)

उत्तराखंडी अनाज.....झंगोरा (Jhangora: Indian Barnyard Millet)

स्कूल का खुलना...चैन की सांस..Reopening of Schools